Saturday, March 20, 2021

डिप्रेशन को कैसे ठीक करें

डिप्रेशन के दस प्राकृतिक उपचार

 डिप्रेशन थेरेपी और दवा के साथ उदास रहने के साथ आप कभी-कभी असहाय महसूस कर सकते हैं , क्योंकि हमारा मस्तिष्क डोपामिन के स्राव के कारण स्तिथियों में संतुलन नही बना पाता और यही कारण है की हम असहाय महसूस करते हैं । जहां आप चिकित्सा और अन्य उपायों से इसे ठीक करने में प्रयासरत हैं वहीं आप इसके लिए बहुत सारे प्राकृतिक उपचार है जो आप स्वयं कर सकते हैं और बहुत जल्द आप एक स्वस्थ मस्तिष्क और खुशहाल जीवन पा सकते हैं।


  अपने व्यवहार को बदलना -

  • आपकी शारीरिक गतिविधि, जीवन शैली और यहां तक ​​कि आपके सोचने का तरीका - इन सभी की मदद से आप नेचुरली डिप्रेशन का उपचार कर सकते हैं


ये टिप्स आपको बेहतर महसूस करने में मदद कर सकते हैं -  इसे आप अभी से शुरू करें।

  •  डेली रूटीन बनाएं

अपनी दिनचर्या को खंगाले की क्या गलत है आपके रूटीन में क्या है जिसमे आपका उत्साह है अगर आप उदास हैं, यदि आपको रूटीन की आवश्यकता है तो एक संतुलित रूटीन बनाएं। यदि आप एक नियमित दिनचर्या का पालन करते हैं तो ये आपके सकारात्मकता को बढ़ावा देती है और आपको ऊर्जावान बनाती है

अवसाद आपके जीवन से उमंगों को, अस्थायी तौर पर खत्म कर देता  है। एक मध्यम स्तर के डेली रूटीन को निर्धारित करने से आप अपने जीवन को ट्रैक पर वापस ला सकते हैं।


  •  लक्ष्य को सेट करें

जब आप उदास होते हैं, तो आप ऐसा महसूस कर सकते हैं कि आप कुछ भी नहीं कर सकते या आप कोई टास्क पूरा नहीं कर सकते। इससे आपको स्वयं के बारे में हीनता महसूस होती है। इस समस्या पर काबू पाने के लिए, अपने लिए दैनिक लक्ष्य निर्धारित करें।


  • बहुत छोटी शुरुआत करें,

  • अपने लक्ष्य को कुछ ऐसा बनाएं जिसे आप सफल कर सकें, जैसे कि हर दूसरे दिन व्यंजन बनाना या फिर कुछ शारीरिक व्याम करना। जैसे जैसे आप बेहतर महसूस करने लगे इन लक्ष्यों को और चुनौतीपूर्ण आप बना सकते हैं



  • व्यायाम करें -

यह अस्थायी रूप से एंडोर्फिन नामक रसायनों को बढ़ावा देता है। डिप्रेशन से पीड़ित लोगों के लिए तो ये बहुत लाभदायक है और लॉन्ग टर्म फायदा साबित हो सकता है । नियमित व्यायाम मस्तिष्क को सकारात्मक तरीके से आचरण और व्यवहार करने के लिए प्रोत्साहित करता है।


  •  स्वस्थ खाएं

 कोई जादू कर देने वाला आहार तो नहीं है जो अवसाद को एकदम से ठीक करता है।पर इस पर ध्यान देना आपके सेहत के लिए अच्छा सौदा हो सकता है। यदि डिप्रेशन आपको अधिक खाने से रोकता है, तो आपके खाने पर नियंत्रण रखने से आपको बेहतर महसूस करने में मदद मिलेगी।



डिप्रेशन के विषय पर हुए अनेक रिसर्चों में ये बात सामने आई है कि कुछ आहार जैसे ओमेगा -3 फैटी एसिड (जैसे सैल्मन और टूना) और फोलिक एसिड (जैसे पालक और एवोकैडो) वाले खाद्य पदार्थ अवसाद को कम करने में काफी हद तक मदद कर सकते हैं।


  •  पर्याप्त नींद लें।

 अवसाद के कारण हम पर्याप्त नींद लेने में असमर्थ हो जाते हैं और अधूरी नींद डिप्रेशन की स्थिति को और बदतर बना देता है


ऐसे में आप क्या कर सकते हैं? अपनी जीवनशैली में कुछ बदलाव करके शुरुआत करें।समय से बिस्तर पर जाएं और हर दिन एक ही समय पर उठें। कोशिश करें कि दिन में झपकी न लें। अपने बेडरूम से ध्यान भटकाने वाली चीजें जैसे tv या कंप्यूटर को हटा दे इससे आप अपनी नींद की स्थिति में सुधार कर सकते हैं।



  •  जिम्मेदारियों को उठाएं। 

जब आप उदास होते हैं, तो आपको घर से और घर के कामों में आपको अरुचि महसूस होती है। इसमें खुद को पूरी तरह से शामिल करें और दैनिक ज़िम्मेदारियाँ निभायें यह आपको एक संतुलित जीवन शैली बनाए रखने में मदद कर सकता है जो अवसाद से निपटने में भी मददगार हो सकता है। ये छोटी जिम्मेदारियां आपको जीवन का आधार देते हैं और आपको एक जिम्मेदार व्यक्तित्व के रूप में उपलब्धि भी देते हैं।



  •  नकारात्मक विचारों को चुनौती दें

अवसाद के खिलाफ आपकी लड़ाई में, बहुत सारा काम मस्तिष्क का है इस पर ध्यान दें आपकी मानसिक सोच कैसी है - आप कैसे सोचते हैं, इसे बदलना है। जब आप उदास होते हैं, तो आप सबसे बुरे विचारों से घिरे रहते हैं ऐसे विचार जिनका कोई अस्तित्व ही नहीं हैं।


  • खुद के बारे में खुद से ख्याल न बनाएं

अगली बार जब आप अपने बारे में हीन और बुरा महसूस कर रहे हों, तो खुद को तर्क दें और इसे एक प्राकृतिक डिप्रेशन के उपचार के रूप में उपयोग करें। आपको ऐसा लग सकता है कि कोई भी आपको पसंद नहीं करता है, लेकिन क्या इसके लिए आपके पास कोई सबूत हैं? आप पृथ्वी पर सबसे बेकार व्यक्ति हैं ऐसा भी आप सोच सकते हैं या इस तरह की भावनाएं महसूस कर सकते हैं, लेकिन क्या वास्तव में इसकी संभावना है? ऐसे नकारात्मक विचारों पर काबू पाएं



कुछ नया करें

 जब आप उदास होते हैं, तो आप शून्यता में होते हैं जहां कुछ करने का विचार ही नहीं आता है। कुछ अलग करने के लिए खुद को पुश करें। आप किसी मॉल जा सकते हैं बहुत अधिक खरीदारी की जरूरत नहीं दिनचर्या की चीजें ही लें और ज्यादा फोकस अपने मस्तिष्क में सकारात्मक विचारों को लाने पर दें



"जब हम खुद को कुछ अलग करने के लिए चुनौती देते हैं, तो मस्तिष्क में रासायनिक परिवर्तन होते हैं, कुछ नया करने की कोशिश [मस्तिष्क रसायन] डोपामाइन के स्तर को बदल देती है, और ये हमे

नया सीखने और ऊर्जावान महसूस करने में मददगार होता है।


  • जिंदगी में उत्साह लाएं

 यदि आप उदास हैं, तो उन चीजों के लिए समय निकालें जो आपको पसंद है हो सकता है आप ऐसा एकदम से न कर पाएं पर अपने आप को हमेशा अच्छा करने के लिए कहते रहें


उन चीज़ों को करने की योजना बनाएं जिनका आप अतीत में आनंद लेते थे। फिल्मों को देखें,डिनर के लिए दोस्तों के साथ बाहर जाएं


जब आप उदास होते हैं, तो आप जीवन का आनंद लेने से खुद को रोकते हैं ऐसे में आप कुछ प्रेरणा देने वाली लेखों को पढ़े, अपने घर को सजाएं, चीजों को व्यवस्थित करने में अपना समय दें खुद को नया लुक दे, नई भाषाओं के बारे में सीखने की कोशिश करें फिर जल्द ही आप इस डिप्रेशन के मकड़जाल से बाहर होंगे। स्वस्थ और खुशहाल।

No comments:

Post a Comment

Follow Blog by email